21st Century Hindi
Cart 0
 

Student Resources

INTERACTIVE RESOURCES


Student Resource - 2

SANGAM FRANKLIN STARTALK LISTENING IMPROVEMENT PROJECT - 2016


Sangam Franklin 2016 Listening Project

Dear Learners:
The following audio passages are meant to sutain and improve your listening skills. The purpose is to let you practice the language. By listening to these passages and recognizing key words you can self assess your listening skills. Please listen to an audio passage carefully and attempt to answer related questions. See for yourself how many questions you can answer correctly. You may listen a passage more than once. Correct answers are given at the end of the passages. For any help or questions, please email: hindiconferencenyc2014@gmail.com


Passage: 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10


 
 

Passage 1: कछुआ और एक खरगोश

 

किसी जंगल में एक कछुआ और एक खरगोश रहते थे। दोनों अच्छे मित्र थे। कछुआ अपनी धीमी चाल के लिए और खरगोश अपनी तेज चाल के लिए मशहूर था। खरगोश कछुए का मजाक उड़ाता था। दोनों ने आपस में दौड़ का मुकाबला करने का निर्णय किया। उन्होंने एक पेड़ तक दौड़ लगाने का निश्चय किया। खरगोश तेज दौड़ कर आगे निकल गया। कछुआ धीरे-धीरे चल रहा था। खरगोश अपनी तेज रफ़्तार से खुश था। उसने सोचा: कछुआ बहुत पीछे है, क्यों न थोड़ा आराम किया जाए! खरगोश आराम करने लगा। उसे नींद आ गयी। थोड़ी देर में कछुआ वहां आ पहुंचा। उसने देखा खरगोश सो रहा था। कछुआ आगे निकल गया और पेड़ तक पहुँच गया। जब खरगोश नींद से जागा तो वह तेजी से पेड़ की ओर भागा। पेड़ के पास जाकर उसने देखा कि कछुआ वहाँ पहले ही पहुँच गया था। कछुए की दौड़ में जीत हुई।

Task 1: Which one of the following statements is the most appropriate for the passage:

a. Never overestimate your competitor.

b. Never befriend dull people.

c. Smart people are always fast.

d. Both speed and consistency are equally important for success.

Task 2: According to the passage, which of the following is true?

a. The tortoise knew he would win the race.

b. The rabbit was nervous about the outcome of the race.

c. The tortoise was focused on reaching his goal.


 

Passage 2 : उल्लू

 

उल्लू रात में जागने वाला पक्षी है। उल्लू अपनी बड़ी आँखें और गोल चेहरे के कारण बहुत प्रसिद्ध है। उल्लू बहुत कम रोशनी में भी देख लेते हैं। इसलिए इन्हें रात में शिकार करने में ज्यादा परेशानी नहीं होती है। 
जो प्रकाश हमारी आंखों के लिए सामान्य है, जिसे हम आसानी से देख सकते हैं, वही प्रकाश उल्लू की आंखों के लिए चौंधिया देने वाला बन जाता है। उल्लू इसी कारण दिन में देख नहीं पाता। 
बड़ी आंखें बुद्धिमानी की निशानी होती है, इसलिए उल्लू को अमेरिका में बुद्धिमान मानते हैं। लेकिन भारत में उल्लू का मतलब बेवकूफ़ है। देखिए सोचने के तरीके में कितना दिलचस्प अंतर है दो देशों में! आपका क्या विचार है?

Task 1: According to this passage owls are known for:

a. Their fast hunting abilities

b. Their abilities to see in daylight

c. Their big eyes and round face

d. Their inability to fly in daylight.

Task 2: Which one of following is not supported by the passage?

a. Owls are considered intelligent in America.

b. In India owls are associated with foolishness.

c. Sunlight makes owls blind.

d. Owls are not great predators.


 

Passage 3: प्यासा कौआ

 

एक बार एक प्यासा कौआ पानी की तलाश में इधर-उधर भटक रहा था। उसे दूर पानी का एक घड़ा नजर आया। घड़े में पानी इतना कम था कि वहाँ तक कौए की चोंच नहीं पहुँच सकती थी। यह देखकर कौआ परेशान हो गया। उसने इधर-उधर देखना शुरू किया। उसकी नजर पास के कंकड़-पत्थरों पर गयी। उसे एक उपाय सूझा। अपनी चोंच में कंकड़ ला-लाकर घड़े में डालने लगा। कुछ ही देर में घड़े का पानी ऊपर आ गया। कौए की मेहनत सफल हुई। उसने घड़े में अपनी चोंच डाली और जी भरकर पानी पिया।

Task 1: Which of the following statement is not supported by the passage?

a. The crow is an intelligent bird.

b. The pitcher was full of water.

c. The crow picked small pebbles.

d. The crow had a plan.


 

Passage 4: लालची कुत्ता

 

एक कुत्ते को बहुत भूख लगी थी। वह खाने के लिए इधर उधर घूम रहा था। रास्ते में उसे एक रोटी मिली। वह बहुत खुश हुआ। रोटी खाने का आनन्द लेने के लिए एकांत जगह ढूंढने लगा। वह रोटी मुँह में दबा कर नदी की ओर चल पड़ा। नदी पर एक पुल था। कुत्ता नदी पार कर रहा था तभी उसे पानी में अपनी परछाईं दिखायी पड़ी। उसने अपनी परछाईं को दूसरा कुत्ता समझा। उसने दूसरे कुत्ते से रोटी छिननी चाही। रोटी छिनने के लिए उसने भौंकते हुए नदी में छलांग लगायी। मुँह खोलते ही रोटी नदी में गिर पड़ी और पानी में बह गयी। कुत्ता भूखा ही रह गया।

Task 1: According to the passage one of the following is not part of the story.

a. He mistook his reflection in the water as real.

b. He barked and jumped into the river water.

c. He was not content with one piece of bread.

d. He was unable to hold the bread by mouth.

Task 2: The passage supports only one of the following statements. Check one.

a. Dogs are generally very loyal animals.

b. The first dog suddenly became greedy.

c. The second dog barked at the first dog.

d. Both were looking for a quiet place.


 

Passage 5: बाल दिवस

 

14 नवंबर को भारत के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू का जन्मदिन होता है। इसे बाल दिवस के रूप में मनाया जाता है। क्योंकि उन्हें बच्चों से बहुत प्यार था बच्चे उन्हें चाचा नेहरू पुकारते थे। 
 बाल दिवस बच्चों को समर्पित भारत का राष्ट्रीय त्योहार है। बाल दिवस बच्चों के लिए महत्वपूर्ण दिन होता है। इस दिन स्कूली बच्चे बहुत खुश दिखाई देते हैं। वे सज-धज कर स्कूल जाते हैं। स्कूल में बच्चे विशेष कार्यक्रम आयोजित करते हैं। वे अपने चाचा नेहरू को प्रेम से स्मरण करते हैं। बाल मेले में बच्चे अपनी बनाई हुई वस्तुओं की प्रदर्शनी लगाते हैं। इसमें बच्चे अपनी कला का प्रदर्शन करते हैं। नृत्य, गान, नाटक आदि प्रस्तुत किए जाते हैं। 
बच्चे देश का भविष्य हैं। इसलिए हमें सभी बच्चों की शिक्षा की तरफ ध्यान देना चाहिए। बच्चों के रहन-सहन के स्तर ऊंचा उठाना हमारी प्राथमिकता होनी चाहिए। इन्हें स्वस्थ, निर्भीक और योग्य नागरिक बनाने का प्रयास किया जाना चाहिए। यह बाल दिवस का संदेश है।

Task 1: Which one of the following statements fits best with Children's Day?

a. It is the birthday of India's first prime minister.

b. It promotes better education for all children.

c. Children present their talents.

d. Parents are allowed to visit schools.


 

Passage 6: बन्दर और मगरमच्छ

 

एक बन्दर नदी के किनारे पेड़ों पर रहता था। एक दिन एक मगरमच्छ किनारे पर आया। वह इधर उधर भूखी नजरों से देखने लगा। बन्दर ने सोचा मगरमच्छ बहुत भूखा है। उसने कुछ फल तोड़कर मगरमच्छ की ओर फेंक दिए। मगरमच्छ रसदार और मीठे फल खा कर संतुष्ट हुआ। मगरमच्छ रोज शाम वहाँ फल खाने के लिए आने लगा। धीरे धीरे दोनो में दोस्ती हो गई। मगरमच्छ कुछ फल अपनी पत्नी के लिए भी ले जाने लगा। 

मगरमच्छ की पत्नी भी रोज मीठे फल खाने लगी। लेकिन वह बन्दर के बारे में बुरा सोचने लगी। उसने मगरमच्छ से कहा कि जो बन्दर इतने स्वादिष्ट और मीठे फल खाता है उसका दिल भी बहुत मीठा होगा। मगरमच्छ की पत्नी ने मगरमच्छ से बन्दर का दिल लाने को कहा। 

मगरमच्छ बन्दर के पास गया। उसने बन्दर से कहा: "मेरी पत्नी तुमसे मिलना चाहती है। मैं तुम्हें पीठ पर बैठाकर अपने घर ले जाऊँगा।" बन्दर तैयार हो गया। नदी में तैरते हुए मगरमच्छ ने बन्दर को अपनी पत्नी की इच्छा बता दी। बन्दर यह सोच कर बड़ा हैरान हुआ कि उसका दिल मगरमच्छ की पत्नी खाना चाहती है! लेकिन उसने सोच समझ कर काम लिया। मगरमच्छ से बन्दर ने कहा: "अरे भाई, तुमने पहले क्यों नहीं बताया, मैं तो अपना दिल पेड़ पर ही छोड़ आया हूँ। पहले बताते तो साथ लेकर आता।"

यह बात सुनकर मगरमच्छ वापस पेड़ की ओर लौटने लगा। जैसे ही वह किनारे पहुँचा, बन्दर ने लंबी छलांग लगाई और पेड़ पर चढ़ गया। बन्दर की जान बच गयी। मगरमच्छ देखता ही रह गया। संकट के समय हर व्यक्ति को सोच समझ कर और बुद्धि से काम लेना चाहिए।

Task 1: What is the most important lesson of this passage?

a. Do not lose your presence of mind in difficult situations.

b. Do not trust people you have not known very well.

c. Don't make friends with cunning people at any cost.

d. Think hard before you take any step for a new adventure.

Task 2: Which of the following saved monkey's life?

a. Foolishness of the crocodile

b. Shallow depth of the river

c. Monkey's sheer good luck

d. Crocodile's imperfect plan


 

Passage 7: सचिन तेंदुलकर

 

सचिन तेंदुलकर ने टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले लिया है। उनकी चाहत के अनुसार उनका अंतिम 200 टेस्ट मैच वेस्टइंडीज के खिलाफ मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में हुआ, जिसमें सचिन ने 74 रन बनाए। वेस्टइंडीज की टीम के खिलाड़ियों ने सचिन के मैदान में आने पर उन्हें सलामी दी। सचिन की सफलता में उनके भाई अजीत का बड़ा हाथ रहा और वे ही उन्हें गुरु रमाकांत आचरेकर के पास ले गए। जब सचिन थक जाते तो आचरेकर सर स्टंप्स पर एक सिक्का रख देते थे और अगर सचिन आउट नहीं होते तो वह सिक्का सचिन का हो जाता था। आज भी ऐसे 13 सिक्के सचिन ने संभालकर रखे हैं। अपने स्कूल के दिनों में सचिन तेंदुलकर लंबे बाल रखते और उस पर एक बैंड लगाया करते थे ताकि वे टेनिस स्टार जॉन मैकनैरो की तरह दिख सकें।

Task 1: What did West Indies players do when Sachin Tendulkar walked into the stadium:

a. Shook his hand

b. Clapped for him

c. Saluted him

d. Hugged him

Task 2: Who is mentioned in the passage as an incentive-provider?

a. Older brother Ajit

b. Ramakant Achrekar Sir

c. John McEnroe


 

Passage 8: होली

 

होली रंगों का त्योहार है। होली भारत का प्राचीन त्योहार है। वसंत ऋतु में मनाए जाने के कारण इसे वसंतोत्सव भी कहते हैं। भारत में होली का उत्सव अलग-अलग प्रदेशों में अलग अलग ढंग से मनाया जाता है। ब्रज की होली पूरे देश में मशहूर है। बरसाने की लठमार होली भी काफ़ी प्रसिद्ध है। वहाँ पुरुष महिलाओं पर रंग डालते हैं और महिलाएँ उन्हें लाठियों से मारती हैं। मथुरा और वृंदावन में १५ दिनों तक होली का पर्व मनाया जाता है।

होली के पर्व से अनेक कहानियाँ जुड़ी हुई हैं। इनमें से सबसे प्रसिद्ध कहानी है प्रह्लाद की। प्राचीन काल में हिरण्यकशिपु नाम का एक अत्यंत बलशाली राक्षस था। उसने अपने राज्य में ईश्वर का नाम लेने पर भी पाबंदी लगा दी थी। वह स्वयं को ही ईश्वर मानने लगा। हिरण्यकशिपु का पुत्र प्रह्लाद ईश्वर-भक्त था। प्रह्लाद की ईश्वर भक्ति से हिरण्यकशिपु बहुत नाराज़ था। उसने प्रह्लाद को अनेक कठोर दंड दिए। लेकिन प्रह्लाद ईश्वर को मानता रहा। हिरण्यकशिपु की बहन होलिका को वरदान प्राप्त था कि वह आग में भस्म नहीं हो सकती। हिरण्यकशिपु ने होलिका को आदेश दिया कि वह प्रह्लाद को गोद में लेकर आग में बैठे। आग में बैठने पर होलिका तो जल गई, पर प्रह्लाद बच गया। ईश्वर-भक्त प्रह्लाद की याद में होली के एक दिन पहले होली जलाई जाती है।

होली हंसी ख़ुशी का त्योहार है। होली के दिन लोग एक दूसरे पर रंग फेंकते हैं। बच्चे पिचकारी में रंग भर कर दोस्तों पर फेकते हैं। लाल के साथ गुलाबी, पीला और हरे रंग भी लगाते हैं। रंगों की होली खेलने के लिए जगह जगह लोग इकठ्ठा होते हैं। उस दिन बाज़ार बंद रहते हैं। लेकिन सड़कों पर भीड़ होती है। लोग नाचते गाते रंग लगाते नज़र आते हैं। एक दूसरे के घर मिलने जाते हैं। अपने घर आये लोगों को मिठाइयों से स्वागत करते हैं। शाम को लोग नहा धो कर नए कपड़े पहन लेते हैं। सबसे लोग नाचते गाते हैं और वसंत के आने की खुशियां मनाते हैं।

Task 1: Which statement is not correct according to the text?

a. Holi goes on for almost two weeks.

b. Holika was Prahlad’s sister.

c. People use all kinds of colors.

d. Sometimes people get into fights.

Task 2: What is the primary reason for celebrating Holi according to the text?

a. Survival of Prahlad

b. Death of Hiranyakashyapu

c. Defeat of the demons

d. Onset of the spring season


 

Passage 9: मूर्ख शेर

 

मंदार पर्वत पर एक शेर रहता था। वह बहुत ताकतवर था। वह पशुओं को मार कर खा जाता था। जंगल के पशु उससे बहुत डरते थे। एक दिन सब पशुओं ने मिल कर उस शेर से कहा: "हे, राजन! आप हमें न मारें, हम आपके भोजन के लिए रोज एक पशु भेज देंगे।" शेर ने सोचा उसे शिकार करने के लिए मेहनत नहीं करनी पड़ेगी। उसके पास रोज एक जानवर पहुँच जाता और वह आराम से उसे खा जाता। एक दिन एक बूढ़े खरगोश की बारी आयी। खरगोश ने कुछ सोचा और धीरे धीरे जाने लगा। वह शेर के पास देर से पहुंचा। शेर भूख से परेशान था और भोजन का इंतज़ार कर रहा था। खरगोश को देखते ही उसने जोर से डांटा: "इतने देर से क्यों आया, मुझे कब से भूख लगी है।” खरगोश बोला: "हे, राजन! मैं क्या करता, रास्ते में एक दूसरे शेर में मुझे पकड़ लिया था। उससे यह कह कर आया हूँ कि जल्दी लौटूंगा।" यह सुनकर शेर बहुत नाराज़ हुआ। वह सोच भी नहीं सकता था कि जंगल में एक और शेर आ गया है। उसने गुस्से में गरजकर कहा: "मेरे राज्य में यह दूसरा कौन शेर आ गया? चलो मुझे जल्दी उसके पास ले चलो।" खरगोश शेर को साथ ले कर एक कुएँ के पास गया और बोला: "दूसरा शेर कूएं में है, आप स्वयं देख लीजिए।" शेर कूएं में अपनी परछाईं को दूसरा शेर समझ कर कूद पड़ा। वह कुएं से बाहर न निकल सका। शेर कुएं में मर गया और जंगल के पशुओं की जान बच गई।

Task 1: Based on the passage what proved more successful?

a. Physical strength

b. Smart idea

c. Strength with intelligence

d. Quick planning

Task 2: In the story, who dies?

a. Lion

b. Rabbit

c. Both

d. None


 

Passage 10: मेरी यात्रा

 

छुटटी में हम सब घूमने जाते हैं। हम हर बार नाना-नानी के घर पर जाते हैं। लेकिन इस बार हम हरिद्वार की तीर्थ यात्रा पर गए थे। यह यात्रा हमने ट्रेन से की। हमने वहां पर खूब मस्‍ती की। मेरे परिवार में पापा-मम्‍मी, दादा-दादी और बड़ी दीदी हैं। हरिद्वार में हमारे गुरुजी का आश्रम है। हरिद्वार में हम सबने गंगाजी में स्‍नान कर आरती का आनंद लिया। हरिद्वार बहुत ही सुंदर तीर्थस्‍थल है। सबसे पहले हम गुरुजी के आश्रम गए। फिर हमने मंदिरों के दर्शन किए। वहां हरि की पौड़ी के सामने मनसा देवी का मंदिर है। दूसरी तरफ पहाड़ी पर चंडी देवी का मंदिर है। हरिद्वार में बहुत सुंदर मंदिर बने हैं। दर्शनों के बाद हम हरिद्वार से कुछ ही दूरी पर ऋषिकेश गए। वहां राम व लक्ष्मण झूला नामक पुल हैं। ये पुल गंगा नदी पर बने हैं। पहाड़ों के बीच बहती गंगा नदी का दर्शन बड़ा मनोरम प्रतीत होता है। यहां से खूब बड़े-बड़े पहाड़ दिखते हैं। हरिद्वार में पवित्र गंगा नदी पर हमने मस्‍ती की। मुझे वहां नई-नई जानकारियाँ मिली। 

हरिद्वार में दूर-दूर से श्रद्वालु दर्शन के लिए आते हैं। यहां हर 12 साल में कुंभ का मेला लगता है। कुंभ के मेले में बहुत से साधु-संत आते हैं। हरिद्वार से लगभग कुछ ही दूरी पर ब्रदीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री, यमुनोत्री के पवित्र धाम भी हैं। हमारी यात्रा बहुत ही रोमांचक व यादगार रही। हमने घूमने का मजा भी लिया और हमारी तीर्थ यात्रा भी हो गई। यहां हमें प्रकृति की सुंदरता देखने को मिली। अब अगली गर्मियों में हम चारधाम की यात्रा पर जाएंगे।

Task 1: Which of the following is most appropriate reason for author’s trip?

a. Visiting an Ashram

b. A nature trail and pilgrimage

c. Attending Kumbh Mela

d. A dip in the river Ganges

Task 2: According to this passage the city of Haridwar can be best descried as:

a. A city of temples

b. A tourist destination

c. A city on top of the hill

d. A city of hanging bridges